चीनी नौसेना की 70वीं वर्षगांठ के समारोह में शामिल हुए भारतीय युद्धपोत, पाक को नहीं दिया गया न्योता

0
11





बीजिंग. दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती पीपल्सलिबरेशन चीनी नौसेना ने मंगलवार को 70वीं वर्षगांठ मनाई। इस मौके पर विभिन्न देशों की नौसेना में शामिल युद्धपोत इस समारोह का हिस्सा बने। इस दौरान तमाम सुविधाओं से लैस इन जहाजोंका संयुक्त तौर परनिरीक्षण भी किया गया। भारतीय नौसेना की ओर से इस समारोह मेंआईएनएस कोलकाता और आईएनएस शक्ति ने हिस्सा लिया। पाकिस्तानी नौसेना का कोईयुद्धपोत इसमें शामिल नहीं हुआ।

  1. पीपल्स लिबरेशन आर्मी के 32 जहाजों ने 6 समूहों में यात्रा की जबकि नेवी के 39 युद्ध विमानों ने 10 की टुकड़ी में परेड में शिरकत की। इस मौके पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भी मौजूद थे। वे न सिर्फ सेना प्रमुख हैं बल्कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुख भी हैं।

  2. चीन ने इस मौके पर लेटेस्ट न्यूक्लियर सबमरीन, विध्वंसक पोत और लड़ाकू विमान प्रदर्शित किए। हालांकि मौसम की खराबी के कारणविजिबलिटी ठीक नहीं थी। ऐसे मेंअतिथियों का इस प्रदर्शनी को देखने कामजा किरकिरा हो गया।

  3. आईएनएस कोलकाता केकैप्टन आदित्य हाड़ा थे। लेटेस्ट हथियारों से लैस यह जहाज एक साथ हवा, पानी और पानी के अंदर हमला करने मेंसक्षम है। आईएनएस शक्ति को सबसे बड़े सहयोगी जहाज के तौर पर जाना जाता है।

  4. पाकिस्तानी नौसेना का कोई जहाज इस समारोह में शामिल नहीं हुआ। रिपोर्ट के मुताबिक पुलवामा हमले के बाद भारत-पाक के बीच पैदा हुए तनाव के मद्देनजर पाक नौसेना को निमंत्रण नहीं भेजा गया।हालांकि सूत्रों के मुताबिक पाकनौसेना प्रमुख एडमिरल जफर महमूद अब्बासी इवेंट में शामिल हुए।

  5. रिपोर्ट के मुताबिक चीन फिलहाल पाकिस्तान के लिए चार बेहद अत्याधुनिक जहाज बना रहा है। अमेरिका ने अपने किसी लड़ाकू जहाज को इस इवेंट में नहीं भेजा। रूस और जापान ने भारत और सिंगापुर के साथ अपने आधुनिक जहाज इस निरीक्षण में भेजे।

  6. भारतीय राजनयिकों ने कहा कि चीनी अधिकारियों ने इस ऐतिहासिक समारोह में भारतीय नौसेना की सहभागिता को खूब सराहा। समारोह में 13 देशों के 18 युद्धपोतों ने हिस्सा लिया। यह पड़ोसी देशों कीसेना के साथ सेना के रिश्तों को बेहतर करने की पहल थी।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      प्रतीकात्मक फोटो।



      Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here