पुतिन से मिलने पहुंचे किम, उ. कोरिया-रूस के बीच ऐतिहासिक रिश्तों के बावजूद दोनों की पहली मुलाकात

0
6





व्लादिवोस्तोक. उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग-उन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिलने रूस पहुंच गए हैं। प्योंग्यांग से बुधवार तड़के ही निकलने की खबरों के बाद किम सबसे पहले रूस के खासान पहुंचे। दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक करीबियां रहने के बावजूद किम शासक बनने के बाद से अब तक पुतिन से नहीं मिले हैं। यह आठ साल में उनकी पहली मुलाकात है। आखिरी बार उनके पिता किम जोंग-इल रूस के तत्कालीन रूसी राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव से मिले थे।

खासान की स्थानीय नेता नटालिया करपोवा ने रूसी न्यूज एजेंसी तास को बताया कि स्टेशन पर किम का फूल और ब्रेड-नमक देकर स्वागत किया गया। यह रूस की परंपरा है। किम इसके बाद करीब 9 घंटे का सफर तय कर वह व्लादिवोस्तोक पहुंचेंगे। बताया गया है कि दोनों नेता व्लादिवोस्तोक में बैठक करेंगे। हालांकि, अभी दोनों के बीच किसी समझौते या साझा बयान को लेकर स्थिति साफ नहीं है।

अमेरिका के प्रतिबंध न हटाने के बाद रूस पहुंचे किम
किम जोंग-उन इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी मुलाकात कर चुके हैं। ट्रम्प और किम की पहली मुलाकात पिछले साल जून में हुई थी, जबकि दूसरी मुलाकात इस साल फरवरी में वियतनाम में हुई। हालांकि, दोनों ही बैठक सिर्फ उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को खत्म करने की मांग के साथ बेनतीजा खत्म हुईं। ट्रम्प ने किम की प्रतिबंधों में ढील देने की बात नहीं मानी।

माना जा रहा है कि ट्रम्प-किम की मुलाकात के बाद उत्तर कोरिया के हालात स्थिर हुए हैं। हालांकि, उसकी आर्थिक स्थिति में कोई खास सुधार नहीं हुआ। इसी के चलते अब किम रूस से मदद मांग सकते हैं। रूस भी उत्तर कोरिया का परमाणु कार्यक्रम खत्म करने में सहयोग बढ़ा सकता है।

किम से तीसरे दौर की वार्ता करने के इच्छुक हैं ट्रम्प
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने किम से तीसरी बार मुलाकात की इच्छा जताई है। वियतमान में दोनों के बीच परमाणु हथियारों पर रोक लगाए जाने पर सहमति नहीं बन पाई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ट्रम्प उत्तर कोरिया के साथ कई छोटे-छोटे समझौता करना चाहते हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


रूस के खासान स्टेशन पर हुआ किम का स्वागत।


खासान में स्थानीय नेताओं ने रूसी परंपरा से किम का स्वागत किया।


किम प्योंग्यांग से अपनी प्राइवेट ट्रेन में बैठकर रूस के लिए निकले।


व्लादिवोस्तोक स्टेशन पर किम के स्वागत के लिए रेड कार्पेट बिछाए गए।


व्लादिवोस्तोक में दोनों के बीच प्रतिबंधों पर बातचीत हो सकती है।


व्लादिवोस्तोक स्टेशन पर फोटो खिंचाते लोग।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here