भारतीय मूल के व्यक्ति ने पहली बार जापान में जीता चुनाव

0
3





टोक्यो. भारतीय मूल के पुराणिक योगेंद्र ने टोक्यो के एदोगावा वार्ड असेम्बली चुनाव में जीत हासिल की है। 41 वर्षीय योगेंद्र पहले भारतीय हैं जिन्होंने जापान में चुनाव जीता है। स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक 21 अप्रैल को हुए चुनाव में योगी को 6,477 मत मिले। योगी ने बताया कि 2011 में जापान में आए भूकंप के बाद मैंने तय किया कि न सिर्फ मैं जापान की नागरिकता लूंगा बल्किराजनीति को करियर बनाऊंगा।

  1. पुराणिक योगेंद्र का निक नेम योगी है। उन्हें जापान की कांस्टीट्यूशनल डेमोक्रेटिक पार्टी का समर्थन मिला। उन्होंने अपनी जीत पर कहा, ”मैं जापानियों और विदेशियों के बीच एक सेतुबनना चाहता हूं।”

  2. एदोगावा वार्ड में ज्यादा संख्या में भारतीय रहते हैं। टोक्यो के 23 वार्डों में रहने वाले 4,300 लोगों में दस फीसदी लोग भारतीय हैं। यूं तो जापान में 34,000 भारतीय रहते हैं। इस वार्ड में चाइनीज और कोरियन लोग भी रहते हैं।

  3. चेंजिंग डायनेमिक्स ऑफ इंडिया-जापान रिलेशन के लेखक शमशाद खान ने कहा, ”जापान के चुनावों में भारतीय मूल के जापानी व्यक्ति की यह पहली जीत है। यह संकेत है कि जापान के समाज निर्माण में भारतीयों ने किस तरह अपना योगदान दिया है।”

  4. योगी 1997 में जापान पहुंचे। वह भारत में यूनिवर्सिटी के छात्र थे। यहां पढ़ाई करने के दो साल बाद जापान लौटे। 2001 में इंजीनियर के तौर पर जापान में काम शुरू किया। इस दौरान बैंक और दूसरी कंपनियों में काम किया। 2005 से एदोगावा के नागरिक बन गए।

  5. योगी ने जापान में अपने अनुभवों पर कहा, ”जापान बहुत साफ है। हर कोई बेहद विनम्र है। 2011 में आए भूकंप के दौरान मुझे स्थानीय लोगों की मदद करने और उनसे जुड़ने का मौका मिला। मैंने महसूस किया कि यह समय है जब मैं जापानी बन जाऊं।”

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Indian-origin Puranik Yogendra wins ward assembly elections in Japan



      Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here