पुडुचेरी: हेलमेट न पहनने वाले 30,000 मोटरसाइकिलों चालकों पर मामला दर्ज

0
7




केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी में 11 फरवरी से लेकर अब तक करीब 30,000 लोगों पर बिना हेलमेट पहने मोटरसाइकिल चलाने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि यातायात पुलिसकर्मी उन मोटरसाइकिलों की पंजीकरण संख्या दर्ज कर रहे हैं, जिनके चालकों ने हेलमेट नहीं पहन रखा था. अधिकारी ने बताया कि इन चालकों को अदालत का सम्मन जारी किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि पहली बार नियमों का उल्लंघन करने वाले पर 100 रुपए और दोबारा उल्लंघन करने वाले पर 300 रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा. इसके बाद नियम का उल्लंघन करने वालों का ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा. बता दें कि पुडुचेरी में उपराज्यपाल किरण बेदी और मुख्यमंत्री वी नारायणसामी के बीच विवाद की एक जड़ दोपहिया वाहन चालकों के लिए हेलेमेट पहनना अनिवार्य करना भी है.

किरण बेदी ने राज्य में बाइक सवारों के लिए हेलमेट पहनना अनिवार्य तो कर दिया है लेकिन कई कल्याणकारी योजनाओं और सरकारी प्रस्तावों को मंजूरी नहीं दी है, जिसके बाद सीएम और उपराज्यपाल के बीच मामला बढ़ गया है. हालात इस कदर बिगड़ गए हैं कि अब नारायणसामी (Narayanaswamy) अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों के साथ राज निवास के बाहर धरना दे रहे हैं.

किरण बेदी द्वारा हेलमेट अनिवार्य करने का विरोध करते हुए सीएम नारायणसामी ने कहा कि इसे चरणवार तरीके से लागू किया जाना चाहिए. पहले जागरूकता फैलानी चाहिए. जागरुकता फैलाए बगैर किरण बेदी ने अपने हाल के फैसले में लोगों के लिए हेलमेट पहनना अनिवार्य कर दिया है, जो ‘साफ तौर पर उनकी मनमानी और लोगों को प्रताड़ित करने का मामला प्रतीत होता है.’ राज्य सरकार ने इस संबंध में पहले लोगों में जागरूकता फैलाने का प्रस्ताव दिया था.

मुख्यमंत्री की मांग है कि मुफ्त चावल बांटने की योजना सहित 39 सरकारी प्रस्तावों को उपराज्यपाल मंजूरी दें. लेकिन इन प्रस्तावों को मंजूरी न मिलने के चलते मुख्यमंत्री उपराज्यपाल के आवास के बाहर सड़क पर ही सो गए. उन्होंने किरण बेदी के आवास के बाहर सड़क पर सोने की अपनी तस्वीर भी ट्विटर शेयर की है. उनके साथ कांग्रेस और डीएमके के विधायक भी मौजूद हैं.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here