Madhya Pradesh: एक IPS की कहानी जो पिता के शव का कर रहा था इलाज

0
13




मध्य प्रदेश के भोपाल से एक चौंका देने वाला मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि एक शख्स ने अपने पिता का शव एक महीने तक अपने घर पर रखा और आयुर्वेद से उनका इलाज करता रहा.  इसमें हैरान कर देने वाली बात ये है कि ये शख्स एक सीनियर IPS ऑफिसर था.

मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब पुलिस ऑफिसर के बंगले पर नियुक्त 2 गार्ड शव से आ रही बदबू के कारण बीमार पड़ गए. इसके बाद मामला हर तरफ फैल गया.  न्यूज 18 के मुताबिक पुलिस ऑफिसर राजेंद्र कुमार मिश्रा ने बताया कि उनके पिता को 13 जनवरी को बंसल अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन इसके एक दिन बाद ही डॉक्टर ने उन्हें ये कहकर डिस्चार्ज कर दिया कि वो उनकेपिता को ठीक नहीं कर सकते.

मिश्रा ने बताया कि वो अपने पिता का इलाज करने के लिए आयुर्वेदिक डॉक्टरों की मदद ले रहे थे, और उस ट्रीटमेंट का असर उनके पिता पर हो रहा था. सूत्रों ने बताया है कि मिश्रा इस काम में जादूगरों और बंगले में काम करने वाले एक जोड़े की की मदद ले रहे थे. उस जोड़े को मास्क पहने हुए भी देखा गया था.

वहीं जब उस अस्पताल से पूछताछ की गई तो पता चला की मिश्रा के पिता को 13 जनवरी को भर्ती कराया गया था, मगर 14 जनवरी को शाम 4.45 बजे उनकी मौत हो गई थी. अस्पताल की तरफ से कहा गया कि, उस वक्त डॉक्टरों ने मिश्रा के पिता की मौत की पुष्टी भी की थी. लेकिन मिश्रा ने डॉक्टरों की बातों को नकार दिया. उन्होंने कहा कि, उन्हें आयुर्वेद पर पूरा भरोसा है और वो उसी से अपने पिता को ठीक करेंगे.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here