फिर से बोले माल्या- प्लीज टेक माय मनी, मेरे ऑफर को मिशेल के प्रत्यर्पण से ना जोड़ें

0
6




भगोड़े शराब व्यापारी विजय माल्या ने इस बात को खारिज कर दिया है कि उन्होंने क्रिश्चियन मिशेल के भारत प्रत्यर्पण के बाद बैंकों से लिए कर्ज को वापस लौटाने का ऑफर दिया है. अगस्ता वेस्टलैंड विमान सौदे के विचौलिए मिशेल को सीबीआई ने मंगलवार देर रात यूएई से प्रत्यर्पित कर भारत लाई थी.

विजय माल्या ने ट्वीट कर एक बार फिर से अपनी बात दोहराई. उन्होंने कहा कि वे फिर से बैंकों से गुजारिश करना चाहते हैं कि वे अपना पैसा वापस ले लें. माल्या ने कहा कि वे इस धारणा को तोड़ना चाहते हैं कि उन्होंने बैंकों के पैसे चुराए.

Respectfully to all commentators, I cannot understand how my extradition decision or the recent extradition from Dubai and my settlement offer are linked in any way. Wherever I am physically,my appeal is “Please take the money”. I want to stop the narrative that I stole money
— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) December 6, 2018

माल्या ने ट्वीट कर कहा कि मैं सम्मानपूर्वक सभी टिप्पणीकारों से कहना चाहता हूं कि मैं समझ नहीं पा रहा कि मेरे प्रत्यर्पण या दुबई से हाल ही में हुए प्रत्यर्पण और मेरे निपटारे के प्रस्ताव में किसी भी तरह का जुड़ाव है. मैं जहां भी शारीरिक रूप से हूं, मेरी अपील है कि कृपया पैसे वापस ले लें. मैं इस धारणा को खत्म करना चाहता हूं कि मैंने पैसे चुराए.

अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर सौदे में विचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण के बाद बुधवार को विजय माल्या ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर बैंकों को पैसे वापस करने की इच्छा जताई थी. उनके इस ऑफर को मिशेल के प्रत्यर्पण से जोड़कर देखा गया था.

Politicians and Media are constantly talking loudly about my being a defaulter who has run away with PSU Bank money. All this is false. Why don’t I get fair treatment and the same loud noise about my comprehensive settlement offer before the Karnataka High Court. Sad.
— Vijay Mallya (@TheVijayMallya) December 5, 2018

विजय माल्या ने ट्वीट कर कहा था कि मैं सभी बैंकों का भुगतान करने को तैयार हूं लेकिन मैं ब्याज नहीं दूंगा. विजय माल्या ने कहा कि उन्हें मीडिया और नेताओं ने अपराधी बना दिया है. उन्होंने कहा कि मैं अपराधी नहीं हूं लेकिन भारत में मुझे अपराधी माना जा रहा है.

अपने ट्वीट में विजय माल्या ने कहा, ‘तीन दशक तक किंगफिशर ने सबसे बड़े ब्रेवरेज ग्रुप के तौर पर कामयाबी से कारोबार किया. सरकारों को हजारों करोड़ रुपए का राजस्व दिया. किंगफिशर एयरलाइन ने भी अच्छा खासा राजस्व दिया. ये दुखद है कि एयरलाइन को घाटा हुआ. उसके बावजूद मैं बैंकों का पैसा लौटाने को तैयार हूं. प्लीज टेक इट’

विजय माल्‍या फिलहाल लंदन में हैं. उन्हें भारत प्रत्यर्पित किए जाने की याचिका पर वेस्टमिंस्टर कोर्ट में सुनवाई चल रही है. माल्या ने कई बैंकों से कर्ज ले रखा है. बकाए की रकम करीब 9 हजार करोड़ रुपए की है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here