अदाणी ग्रुप की कोयला खदान को मंजूरी मिली, पर्यावरण संरक्षण से जुड़े लोग विरोध कर रहे थे

0
5





मेलबर्न.ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड राज्य में अदाणी ग्रुप के कोल माइन प्रोजेक्ट को गुरुवार को आखिरी मंजूरी मिल गई। वहां की सरकार ने अदाणी समूह का भूजल आधारित ईकोसिस्टम मैनेजमेंट प्लान मंजूर कर दिया। समूह की कार्मिकाइल खदान से पर्यावरण को नुकसान होने का दावा करते हुए विरोध-प्रदर्शन हुए थे। यह पिछले महीने हुए ऑस्ट्रेलिया के संघीय चुनावों में मुद्दा भी बना था।

  1. अदाणी ग्रुप ने 2010 में ऑस्ट्रेलिया में कोयला खदान खरीदी थी। इस प्रोजेक्ट से सालाना 8-10 मिलियन टन कोयला उत्पादन की योजना है। इसकी लागत 1.5 अरब डॉलर तक हो सकती है। कार्मिकाइल प्रोजेक्ट के सीईओ लुकस डाओ ने कहा है कि हम काम शुरू करने के लिए तैयार हैं। इससे इलाके के लोगों को रोजगार मिलेंगे जिसकी बहुत ज्यादा जरूरत है।

  2. अदाणी समूह के प्रोजेक्ट को मंजूरी मिलने से क्वींसलैंड के गैलिली बेसिन में करीब 6 अन्य कोयला खदानों की राह भी आसान हो गई है। इनमें ऑस्ट्रेलिया के बड़े अमीर कारोबारियों के प्रोजेक्ट भी शामिल हैं।

  3. अदाणी की खदान को मंजूरी देने के ऑस्ट्रेलिया सरकार के फैसले पर पर्यावरण संरक्षण से जुड़े वहां के लोगों ने नाराजगी जताई है। ऑस्ट्रेलियन मरीन कंजर्वेशन सोसायटी का कहना है कि वर्ल्ड हेरिटेज में शामिल ग्रेट बैरियर रीफ के लिए यह बुरी खबर है। गैलिली बेसिन में कोल प्रोजेक्ट से ग्लोबल वॉर्मिंग बढ़ेगी। यह रीफ के भविष्य के लिए खतरा है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      अदाणी के कोल प्रोजेक्ट के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में प्रदर्शन करते लोग। (फाइल फोटो)



      Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here