भारत दौरे से पहले अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो ने कहा- मोदी है तो मुमकिन है

0
2





वाॅशिंगटन.अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो24 जून काे भारत की यात्रा पर आएंगे। इससे पहले उन्होंने भाजपा के चुनावी स्लोगन ‘मोदी है तो मुमकिन है’ का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर प्रसाद की तारीफ की। बुधवार को भारत-अमेरिका व्यापार परिषद की बैठक में पोम्पियोने कहा कि मैं देखना चाहता हूं कि मोदी दोनों देशों के रिश्तों को और मजबूत कैसे बनाते हैं। अपने समकक्ष जयशंकर से मिलने के लिए भी उत्साहित हूं। वे एक मजबूत साथी हैं। पोम्पियो का भारत दौरा ओसाका में 28 और 29 जून की जी-20 समिट से पहले होगा। इस दौरान मोदी-ट्रम्प की मुलाकात को लेकर जमीन तैयार की जाएगी।

  • पोम्पियोने कहा,‘‘हम भारत की नई सरकार के साथ बातचीत जारी रखेंगे। मोदी ने अपने चुनाव अभियान में कहा था- मोदी है तो मुमकिन है। अब देखना है कि वह दुनिया के साथ रिश्तों और भारत की जनता से किए वादों को कैसे संभव बनाते हैं। उम्मीद है कि वे अमेरिका के साथ रिश्तों को और मजबूत करेंगे। भारत यात्रा के दौरान ट्रम्प प्रशासन के ‘महत्वाकांक्षी एजेंडे’ पर बातचीत होगी।’’
  • ”भारत के चुनाव नतीजों से आश्चर्यचकित नहीं हुआ, बल्कि मैं जानता था कि पीएम मोेदी नए तरीके के नेता हैं। उन्होंने एक राज्य को 13 साल दिए। चायवाले के बेटे हैं और गरीब से गरीब का विकास उनकी प्राथमिकता में है। उन्होंने भारत के करोड़ों घरों में बिजली और गैस चूल्हे पहुंचाए हैं।”

भारत-अमेरिका के बीच विवाद कम करने पर रहेगी नजर
दोनों देशों के बीच रिश्तों में बीते कुछ समय में गिरावट देखी गई है। कुछ दिन पहले ट्रम्प ने भारत को जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंसेज (जीएसपी) से बाहर करने का फैसला किया था। जीएसपी के तहत भारत जो उत्पाद अमेरिका भेजता है उन पर वहां आयात शुल्क नहीं लगता। हालांकि, अमेरिका का आरोप है कि भारत अपने यहां पहुंचने वाले अमेरिकी उत्पादों पर भारी आयात शुल्क लगाता है, जिससे उसे नुकसान होता है। इसके अलावा भारत के रूस से एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम खरीदने पर भी अमेरिका ने नाराजगी जताई। अमेरिका ने भारत पर प्रतिबंध लगाने की धमकी भी दी। वहीं, ईरान और वेनेजुएला से तेल आयात पर भी अमेरिका ने रोक लगाई है।

पोम्पियो की यात्रा हिंद-प्रशांत क्षेत्र के लिए अहम
ट्रम्प प्रशासन भारत के साथ रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने पर लगातार जाेर दे रहा है। पोम्पियो भारत के अलावा श्रीलंका, जापान और दक्षिण काेरियाभी जाएंगे। भारत दौरे पर प्रधानमंत्री माेदी औरविदेश मंत्री जयशंकर से बातचीत करेंगे। पाेम्पियोकी हिंद-प्रशांत क्षेत्राें की यात्रा 30 जून काे पूरी हाेगी। चार देशाें की इस यात्रा का खाका राष्ट्रपति डाेनाल्ड ट्रम्प के हिंद-प्रशांत क्षेत्र की रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने के मद्देनजर तैयार किया गया है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


माइक पोम्पियो और नरेंद्र मोदी। -फाइल


अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो। -फाइल



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here