'जावध केस पर पूर्व अनुमान नहीं लगा सकते'

0
9



इस्लामाबाद
पाकिस्तान ने गुरुवार को कहा कि वह भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी के मामले में 17 जुलाई को आने वाले अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) के फैसले का पूर्व अनुमान नहीं लगा सकता है। भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव (48) को अप्रैल 2017 में मुकदमे के बाद जासूसी और आतंकवाद के आरोप में पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने मौत की सजा सुनाई थी।

हालांकि, उनकी सजा के ऐलान पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। भारत ने वियना संधि के प्रावधानों का पाकिस्तान द्वारा घोर उल्लंघन किए जाने को लेकर मई 2017 में आईसीजे का रुख किया था। दरअसल, पाक ने जाधव को भारत द्वारा दूतावासीय मदद मुहैया कराने की इजाजत देने से बार-बार इनकार किया था। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मुहम्मद फैसल ने अपनी साप्ताहिक प्रेस ब्रीफिंग में कहा, ‘हम फैसले का पूर्व अनुमान नहीं लगा सकते।’

हेग स्थित आईसीजे ने 4 जुलाई को अपने एक बयान में यह घोषणा की थी वह जाधव मामले में 17 जुलाई को अपना फैसला सुनाएगा। गौरतलब है कि भारत कहता रहा है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था जहां वह नौसेना से सेवानिवृत्त होने के बाद कारोबार के सिलसिले में थे।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here